Wednesday, March 13, 2013

वतन की एक आवाज


धमाके तो होते रहते, मत इतना कोहराम करो !
.
कौन तुम्हारा मरा है, सब अपना-अपना काम
करो !!
.
परसों असमिया मरा था, कल
मरा वो बंगाली था!
.
आज तेलगू मर गया है,
बस जारी एक बयान
करो !
.
.
जिस दिन तुम्हारा मरेगा,
रो लेना फफक-फफक
के !
.
दो लाख का चढ़ा वाले कर,
फिर ऐशो आराम
करो !!
.
सिंध, बंग, पंजाब गया, अपने बाप
का क्या गया !
.
तोता रट्टू जैसे तुम तो,
जन गण मन का गान
करो !!
.
लुटते रहो,
पिटते रहो,
रोज लड़ते रहो
आपस में !
.
जात-पांत के नाम पर,
फिर अगला मतदान करो !!
.
गर बचा पूर्वजों का खून,
थोड़ा साभी नसों में !.
.
एक बार राणा-शिवा, कृष्ण अर्जुनका ध्यान
करो !!
.
फिर भुजाएँ फडक उठे,
भारत के वीर जवानों की !
हम पर प्रहार करने वालों के,
गिन-गिन करके
प्राण हरो !! ...

जय हिन्द ।...
एक निवेदन - आप सभी Comment तो करते हो पर जब तक आप Join नही करेगे तब तक आप का Comment मुझे नही मील पायेगा !  

No comments:

Post a Comment

आप अपने सुझाव हमें जरुर दे ....
आप के हर सुझाव का हम दिल से स्वागत करते है !!!!!