Thursday, May 16, 2013

गुरु की महत्ता



गुरु: ब्रम्हा गुरु: विष्णु गुरु: देवो महेश्वर  - इस वाक्य से हम गुरु ( Teacher ) की बंदना करता हूँ ! गुरु ज्ञान की  
                                                    प्रारम्भिक पाठशाला की कुंजी है ! हमने जब इस धरती पर जन्म लिया तो हमें किसी भी विषय का कोई भी ज्ञान नहीं था ! गुरु ने ही हमे अपने कर्तव्यो का बोध कराया ! उसी ने बताया की ईश्वर क्या है ?????


गुरु गोविन्द दोउ खड़े काके लांगू पांव !
बलिहारी गुरु आपने गोविन्द दियो बताय !!

             इस पंक्ति से हमे गुरु की महत्ता समझ में आती है कि गुरु के ईश्वर से भी बड़ा माना गया है ! आखिर क्यों ??? सर्वप्रथम गुरु ने ही ईश्वर शब्द एवं उसकी व्यापकता को हमे बताया ! गुरु ही ईश्वर तक पहुचने की सीढ़ी है ! गुरु ने ही हमारे जीवन के हर क्षण को एक कुशल शिल्पकार की तरह संवारा एवं सजाया है ! गुरु ने ही वेद, पुराण, रामायण, महाभारत एवं श्रीमद भागवद गीता क्या है, हमे बताया ! हमारे मस्तिष्क में अज्ञान का जो अन्धेरा था गुरु ने ही अपने ज्ञान रूपी प्रकाश से हमारा मस्तिष्क प्रकाशमान किया ! हमे अपने गुरु का सदैव सम्मान करना चाहिए ! गुरु का आशीर्वाद हमारे जीवन में सदैव प्रेरणा का कार्य करता है !
                                                               मै यैसे गुरु को शत - शत नमन करता हूँ, बन्दना करता हूँ, अभिनन्दन करता हूँ ! मै ईश्वर से प्रार्थना करता हूँ कि मुझे मेरे गुरु का आशीर्वाद एवं मार्गदर्शन सदैव प्राप्त होता रहे ताकि उनके संरक्षण में पल्लवित, पुष्पित होकर एक अच्छा नागरिक बनकर अपने देश की सेवा कर सकू ! ईश्वर मेरे गुरु को शक्ति प्रदान करे एवं मुझे उनका आशीर्वाद मिल सके !

अगर आप की कलम भी कुछ कहती है तो आप भी अपने लेख हमे भेज सकते है ! हमारा Email id - bindasspost.in@gmail.com ... 
निवेदन   - अगर आप को ये पोस्ट अच्छा लगा हो तो आप हमे comment के माध्यम से जरुर बताये ! दोस्तों आप से उम्मीद करता हु कि इस blog को आप सभी follow/join करेगे ! Join कर हमे अपना सहयोग दे ! Facebook Friends आप Facebook पर Comment कर सकते है !

हमे अपना सहयोग दे जिससे और भी अच्छे पोस्ट मै Send कर सकू ! .. धन्यबाद ....
"जय हिन्द जय भारत''  

No comments:

Post a Comment

आप अपने सुझाव हमें जरुर दे ....
आप के हर सुझाव का हम दिल से स्वागत करते है !!!!!