Thursday, April 10, 2014

तेरी ये अदा



तेरी ये अदा कितनी बेइमानी सी लगाती है ! 
जो तू हर बात में कह देती है पता नहीं !!

तेरी ये अदा कितनी बेइमानी सी लगाती है ! 
जो नजरे मिलाने पे नजरे चुरा लेती है !!

तेरी ये अदा कितनी बेइमानी सी लगाती है ! 

«« ना जाने उसे   »»                              «« यु न इस कदर  »»


No comments:

Post a Comment

आप अपने सुझाव हमें जरुर दे ....
आप के हर सुझाव का हम दिल से स्वागत करते है !!!!!