Tuesday, June 17, 2014

मेरे सैनिक विजय गीत गाते चल



मेरे सैनिक विजय गीत गाते चल  !
कारवा हो ऐसी जो हमेशा कदम बढ़ते चल !! 
चल साथ तू साथ कदम बढ़ाते चल !
मेरे सैनिल विजय गीत गाते चल !!

तेरे पैरो की थाप हो इस तरह ! 
दुश्मन के काप जाये मनोबल !!
तू चढ़ता चला जा तू बढ़ता चला जा !
हो विजय तुम्हारी हर - पल !!

वो मेरे सैनिक विजय गीत गाते चला चल !!!!

ना सोच पाये कोई भिड़ने को 
ना आँख दिखा पाये तुमको 
इस तरह विजय गीत गाता चल 
साथ - साथ कदम से कदम मिलाता चल 

रहे हैरान सारे दुश्मन 
हो जाये परेशान दुश्मन 
इस तरह विजय गीत गाता चल 
कदम से कदम मिलाता चल 

वो मेरे सैनिक विजय गीत गाते चला चल !!!!

                                       ҉  देशभक्ति कविताएँ ҉                               ҉  वतन की एक आवाज ҉







No comments:

Post a Comment

आप अपने सुझाव हमें जरुर दे ....
आप के हर सुझाव का हम दिल से स्वागत करते है !!!!!